अच्छे शूज की शॉपिंग केसे करें (Best shoes shoping)

अच्छे शूज की शॉपिंग के लिए इन 5 अहम बातों का रखें (Best Shoes Buying Guide)

पैरो को आराम देने के लिए सही शूज का चुनाव करना बहुत ज्यादा जरूरी है। अगर शूज की शॉपिंग के दौरान कुछ खास बातों का ध्यान रखा जाए तो सही कीमत पर और पैरों के लिए कंफर्टेबल शूज की शॉपिंग की जा सकती है। आजकल शूज के ढेर सारे ब्रांड्स बाजार में उपलब्ध हैं। लेकिन ब्रांड की चमक-दमक के बजाय आप अपनी प्रायोरिटीज पर ध्यान दें, तभी आप अच्छे शूज खरीद सकती हैं। तो आइए जानते हैं कि शूज की शॉपिंग करने के दौरान किन चीजों का आज्यादातर महिलाओं का फोकस जूते के डिजाइन और स्टाइल पर होता है। कई बार महिलाएं सिर्फ जूते की खूबसूरती देखकर उसे खरीद लेती हैं, लेकिन जूते के पैटर्न के साथ-साथ उसका कंफर्टेबल होना भी बहुत मायने रखता है। अगर आप अपने शूज में आरामदायक महसूस करेंगी तो आपको थकान महसूस नहीं होगी और अपने ज्यादातर आप फुर्ती से वॉक करते हुए निपटा सकेंगी। अगर आप वर्किंग हैं तो इस बारे में आपको और भी ज्यादा ध्यान देना चाहिए। कई बार महिलाएं सस्ते दाम देखकर लोकल ब्रांड के शूज खरीदना बेहतर समझती हैं, लेकिन पैरों की सेहत बनाए रखने के लिए इस आदत को बदलें। ब्रांडेड और विश्वसनीय कंपनियों के शूज को बनाने के लिए तरह के नियमों का पालन किया जाता है, जबकि लोकल शूज में इस तरह की चीज नहीं होती। ब्रांडेड शूज की टेस्टिंग भी की जाती है, जबकि लोकल शूज में यह चीज देखने को नहीं मिलती। इसीलिए अगर आपको ब्रांडेड शूज थोड़े महंगे भी मिलें तो उन पर यकीन करना ज्यादा अच्छा है। फ्लैट फुटवियर हैं बेहतर अगर आपकी हाइट कम है और इसी वजह से आप ऊंची हील वाली सैंडल्स और शूज पहनती हैं तो इससे आपको पैरों में इनकंफर्टेबल फील होने के साथ-साथ तलवे में दर्द की शिकायत भी हो सकती है। कई बार दिन में लंबे वक्त तक हाई हील्स पहनने की वजह से परेशानी और भी ज्यादा बढ़ जाती है। इस तरह की परेशानियों से बचने के लिए हील वाले शूज लेने से परहेज करें। अगर आप चाहें तो फ्लैट हील वाले शूज लेने के बारे में सोच सकती हैं, जिनसे पैरों का बैलेंस भी बना रहता है और पैरों में दर्द होने की समस्या भी नहीं होती। शूज खरीदने में समझौता ना करेंअगर आप सॉफ्ट लेदर के शूज पहनती हैं तो उससे पैरों को मूव करने में ज्यादा आरामदायक महसूस होता है। अगर आपको जूता थोड़ा भी कसता है या जूता पहनने के दौरान पैर कहीं से दबा हुआ महसूस करता है तो उसे लेने से पूरी तरह से परहेज करें। अगर एक बार में पैर जूते में डालने पर आपको फिट आ जाता है तो समझ लीजिए कि वही आपके लिए बेहतर है। जूता खरीदने में ना दिखाएं हड़बड़ीजब भी शूज की शॉपिंग के लिए जाएं तो थोड़ा फुर्सत से जाएं। मुमकिन है कि कई शूज देखने के बाद आपको ज्यादा अच्छे डिजाइन मिल जाएं या दाम ज्यादा आकर्षक मिल जाएं। शूज को तसल्ली से देखने पर उससे जुड़ी खामियां भी दिख जाती हैं। मसलन किसी शूज की सिलाई खुली हो सकती है या फिर किसी की फिनिशिंग में प्रॉब्लम हो सकती है। ये चीजें आप तभी पकड़ सकते हैं जब आप उसे बहुत बारीकी से देख रही हों।

Leave a Reply

Your email address will not be published.